Friday, April 19, 2024

Tecno Phantom X2 5G Review in Hindi Price in India Rs 39999 Specifciations Rivals Comparison Details

Tecno ने देश में अपनी शुरुआत किफायती स्मार्टफोन की पेशकश के साथ की थी और लंबे समय से कंपनी बजट व मिड रेंज स्मार्टफोन सेगमेंट के उपभोक्ताओं को टार्गेट कर रही है, लेकिन हाल ही में Phantom X2 5G के लॉन्च के साथ कंपनी ने अपनी जड़े प्रीमियम सेगमेंट में भी बिछा दी है। स्मार्टफोन भारत में 39,999 रुपये कीमत में लॉन्च किया गया है और इस कीमत में Phantom X2 5G की सीधी टक्कर Motorola Edge 30 Pro, OnePlus 10R 5G Endurance Edition, Realme GT Neo 3, Vivo V25 Pro और एक साल पहले लॉन्च हुए Samsung Galaxy S21 FE से होती है। Tecno Phantom X2 5G स्मार्टफोन भारत में 4nm प्रोसेस पर बने MediaTek Dimensity 9000 SoC के साथ आने वाला पहला स्मार्टफोन है। स्मार्टफोन बड़ी बैटरी, फास्ट चार्जिंग फीचर, फ्रंट एलईडी फ्लैश जैसे फीचर्स के साथ आता है, लेकिन क्या ये फीचर्स फैंटम एक्स2 को तगड़ी प्रतियोगिता में खुद को साबित करने के लिए काफी है? चलिए इस रिव्यू में जानते हैं।

 

Tecno Phantom X2 5G price in India, Specifications

Tecno Phantom X2 5G की भारत में कीमत 39,999 रुपये है, जिसमें 8GB रैम और 256GB स्टोरेज कॉन्फिगरेशन मिलती है। स्मार्टफोन को दो कलर ऑप्शन – मून लाइट सिल्‍वर और स्‍टारडस्‍ट ग्रे में पेश किया गया है।

Tecno Phantom X2 5G में 6.8-इंच का FHD+ (1080×2400 पिक्सल) कर्व्‍ड डिस्‍प्‍ले मिलता है, जो 120Hz रिफ्रेश रेट, 700nits की पीक ब्राइटनेस और करीब 387 ppi पिक्सल डेंसिटी सपोर्टेड पैनल से लैस है। डिस्‍प्‍ले को कोर्निंग गोरिल्‍ला ग्‍लास विक्‍टस का प्रोटेक्‍शन मिलता है। स्मार्टफोन में LED फ्लैश के साथ 32MP फ्रंट कैमरा मिलता है। इसमें ट्रिपल रियर कैमरा सेटअप दिया गया है, जिसमें 64MP RGBW(G+P)+13MP+2MP सेंसर फिट किए गए हैं। फोन ऑप्टिकल इमेज स्‍टैबलाइजेशन सपोर्ट करता है। फोन में 5160mAh बैटरी मिलती है, जो 45W फास्ट चार्जिंग सपोर्ट करती है। अच्छी बात यह है कि आपको बॉक्स के अंदर USB Type-A to Type-C केबल के साथ एक 45W चार्जिंग एडेप्टर मिलता है। इतना ही नहीं, आपको इसमें एक Type-C ईयरफोन भी दिखाई देगा, जो आज के समय में एक प्रीमियम स्मार्टफोन के साथ मिलना दुर्लभ है।
 

Tecno Phantom X2 5G: Design

Tecno Phantom X2 5G के डिजाइन को प्रीमियम लुक देने के लिए इसमें कर्व्ड डिस्प्ले दिया गया है। कंपनी का कहना है कि स्मार्टफोन मून क्रेटर से प्रेरित डिजाइन वाला दुनिया का पहला फोन है। इसमें मिडिल फ्रेम में कथित तौर पर CNC मेटल का इस्तेमाल किया गया है। कंपनी का कहना है कि फोन में मिलिट्री ग्रेड एंटी-ग्‍लेयर ग्‍लास इस्तेमाल किया गया है। Tecno ने स्मार्टफोन के डिजाइन को यूनिबॉडी डबल-कर्व्ड डिजाइन बोला है, जिसमें फ्रंट और बैक का कर्व सिमिट्रिकल (एक समान) है, जिसके कारण मिडल फ्रेम पतला दिखाई देता है।
 

9pk8kr88

यूं तो सभी के लिए रंगों की पसंद अलग हो सकती है, लेकिन मुझे इसका मूनलाइट सिल्वर कलर काफी पसंद आया। बैक पैनल फ्रॉस्टेड फिनिश के साथ आता है, जो फ्रिंगरप्रिंट छिपाने का काम बखूबी निभाता है। मुझे स्मार्टफोन में डार्क शेड (खासतौर पर ब्लैक) ज्यादा पसंद आता है, लेकिन Phantom X2 का मूनलाइट सिल्वर कलर ने मुझे काफी आकर्षित किया, जो ट्रेंड में चल रहे चमकीले रंगों से काफी सोबर है। यदि आप क्लासिक डार्क कलर पसंद करने वालों में हैं, तो आप स्मार्टफोन के स्टारडस्ट ग्रे कलर ऑप्शन पर भी नजर डाल सकते हैं। 

स्मार्टफोन इंडस्ट्री अब धीरे-धीरे बड़े कैमरा रिंग वाले मॉड्यूल की तरफ बढ़ रही है। फैंटम एक्स2 के साथ भी कंपनी ने यही रास्ता पकड़ा है। फोन के बैक में एक विशाल कैमरा मॉड्यूल है, जिसे कंपनी दुनिया का पहला 3.5D मून क्रेटर इंस्पायर्ड डिजाइन बोल रही है। मॉड्यूल में बेहद कम उभार है, लेकिन इसमें उभरे हुए दो बड़े कैमरा रिंग हैं और एक कैमरा सेंसर को मॉड्यूल के अंदर रखा गया है। अच्छी बात यह है कि कैमरा रिंग के उभार के बावजूद फोन फ्लैट सरफेस पर स्थिर रहता है। निश्चित तौर पर यह मॉड्यूल राह चलते कई लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचने की क्षमता है। मुझे व्यक्तिगत रूप से बड़े कैमरा मॉड्यूल पसंद नहीं आते हैं और कुछ ऐसा ही Phantom X2 के साथ भी है। हालांकि, स्मार्टफोन के डिजाइन को लेकर सबकी पसंद पूरी तरह से व्यक्तिगत होती है।

Phantom X2 हाथ में पकड़ने में भी काफी अच्छा फील देता है। भले ही इसका वजन 203 ग्राम है, लेकिन फिर भी, मुझे फोन हाथ में भारी नहीं लगा। ऊपर की ओर विशाल कैमरा मॉड्यूल होने के बाद भी फोन को एक हाथ से पकड़ना मुश्किल नहीं होता है। कंपनी ने यहां वजन को बांटने का काम अच्छे से किया है। हालांकि, फोन की लंबाई ज्यादा है, जिससे एक हाथ से इसे ऑपरेट करना बहुत मुश्किल हो जाता है। फोन के टॉप पर पहुंचने के लिए आपको अपने दूसरे हाथ का इस्तेमाल करना पड़ेगा। फिर भी, 8.9mm मोटाई के साथ, लंबे समय के इस्तेमाल के दौरान भी यह आपके हाथ को थकाएगा नहीं।
 

fi21hguo

फोन के फ्रेम में वॉल्यूम और लॉक/पावर बटन दाईं ओर दिए गए हैं और एक हाथ से इस्तेमाल के दौरान इन तक पहुंचना आसान था। वहीं, डुअल 5G सिम स्लॉट, सिंगल स्पीकर, माइक और Type-C पोर्ट को फ्रेम के बॉटम पर रखा गया है। फ्रेम के टॉप पर सेकंडरी माइक दिया गया है।
 

Tecno Phantom X2 5G: Display

Tecno Phantom में 6.8-इंच का FHD+ (1080×2400 पिक्सल) फ्लैक्सिबल AMOLED कर्व्‍ड डिस्‍प्‍ले मिलता है, जिसका आस्पेक्ट रेशियो 20:9 है। डिस्प्ले 120Hz रिफ्रेश रेट, P3 वाइड कलर गैमट सपोर्ट करता है। इसमें HDR10+ और HLG सपोर्ट शामिल है। हालांकि, मैने पाया कि Google Play Store पर मौजूद Netflix ऐप इस स्मार्टफोन को सपोर्ट नहीं कर रहा था और मैं उसे इंस्टॉल करने में अक्षम रहा। फिर भी, Disney+ Hotstar, Prime Video, Airtel Xstream जैसे ऐप्स में कंटेंट स्ट्रीमिंग में मुझे कोई समस्या नहीं मिली।
 

फुल HD पर कंटेंट स्ट्रीमिंग के दौरान डिस्प्ले ने अच्छे डिटेल्स और कलर जनरेट किए। अंधेरे वाले सीन में ब्लैक काफी अच्छा दिखाई दिया। डिस्प्ले 700nits की मैक्सिमम ब्राइटनेस सपोर्ट करता है, जिसके कारण मुझे आउटडोर में कंटेंट देखने में खासा मजा नहीं आया। साथ ही, डायरेक्ट सनलाइट के दौरान मैक्सिमम ब्राइटनेस में भी मुझे फोन को नेविगेट करने में दिक्कत हुई। इसमें High Brightness Mode मिलता है, जो बहुत तेज रोशनी में ब्राइटनेस को मैक्सिमम से भी ऊपर ले जाने की कोशिश करता है, लेकिन इसने भी मेरी ज्यादा मदद नहीं की। 120Hz रिफ्रेश रेट फोन में स्क्रॉलिंग को स्मूथ बनाने का काम बखूबी निभाता है। इसमें ऑटो एडजस्टमेंट ऑप्शन भी है, जो डिस्प्ले के रिफ्रेश रेट को स्क्रीन पर चल रहे काम के आधार पर स्टैंडर्ड 60Hz और 120Hz के बीच एडजस्ट करता रहता है।

vr5d4lfg

यह एक कर्व्ड डिस्प्ले है, जिसने मुझे समय-समय पर एक्सिडेंटल टच के साथ परेशान किया। मैने पाया कि कई बार फोन में स्क्रॉल करते समय डिस्प्ले में एक्सिडेंटल टच हुए। हालांकि, यह समस्या टेक्नो के साथ नहीं, ज्यादातर कर्व्ड डिस्प्ले स्मार्टफोन के साथ होती है।

डिस्प्ले के चारों ओर पतले और एक समान बेजल्स हैं। Phantom X2 5G में इन-डिस्प्ले फिंगरप्रिंट स्कैनर भी है, जो फिंगरप्रिंट को रजिस्टर करने और डिवाइस को अनलॉक करने में सटीक और तेज है। हालांकि, फोन की लंबाई को देखते हुए स्कैनर को काफी नीचे फिट किया गया है, जिससे मुझे एक हाथ से इस्तेमाल के दौरान फोन को अनलॉक करने के लिए अपने अंगूठे को बहुत नीचे ले जाना पड़ता था, जो बिल्कुल सुविधाजनक नहीं था।
 

Tecno Phantom X2 5G: Software and Features

मेरा रिव्यू यूनिट Android 12 पर बेस्ड HiOS 12 पर काम कर रहा था और इसमें एंड्रॉयड सिक्योरिटी अपडेट वर्जन सितंबर 2022 था, जो जनवरी 2023 के हिसाब से बहुत पुराना था। रिव्यू लिखे जाने तक मुझे लेटेस्ट सिक्योरिटी अपडेट प्राप्त नहीं हुआ था।

Tecno ने HiOS के सॉफ्टवेयर एक्सपीरिएंस को समय के साथ बेहतर बनाने की कोशिश की है। हालांकि, फर्स्ट बूट के साथ हमने पाया कि सॉफ्टवेयर Boom Play, WPS Office, Welife जैसे कई प्री-इंस्टॉल्ड ऐप्स से भरा था, जिनमें से मैं कई ऐप्स को अनइंस्टॉल करने में सक्षम था। हालांकि, AHA Games, Hi Translate, Palm Store, Visha Player, Xshare Mini, Phone Master जैसे नेटिव ऐप्स को अनइंस्टॉल करने का ऑप्शन नहीं था और इन्होंने (खासतौर पर Phone Master ने) समय-समय पर पुश नोटिफिकेशन्स भेजते रहे। इनमें से कई ऐप्स को मैं डिसेबल करने में सक्षम था।
 

iar94g4o

सॉफ्टवेयर में कस्टमाइजेशन के कई ऑप्शन हैं। मुझे व्यक्तिगत रूप से इसके कुछ फीचर्स पसंद आएं, जिनमें से एक रिसेंट ऐप्स स्क्रीन में किसी मिनिमाइज किए गए ऐप को ब्लर करने का ऑप्शन है। इसके अलावा, स्क्रीन के साइड से एक्टिव होने वाला स्मार्ट पैनल भी है, जो जरूरी फीचर्स और ऐप्स का शॉर्टकट देता है और यहां से खोले गए ऐप्स छोटे मल्टी-विंडो में खुलते हैं, जो मल्टी-टास्क के लिहाज से सुविधाजनक है।

फोन में NFC, वायर्ड FM, AI Subtitle (जो कॉल या स्ट्रीमिंग के दौरान लाइव सबटाइटल जनरेट करता है) और आसान पीसी कनेक्शन के लिए PC Connection जैसे फीचर्स शामिल हैं।

हालांकि, 40 हजार रुपये कीमत के हिसाब से मैने Phantom X2 5G में कुछ फीचर्स को बहुत मिस किया। स्मार्टफोन में किसी प्रकार की IP रेटिंग नहीं मिलती है। न ही इसमें स्टीरियो स्पीकर मिलते हैं, जिसने मेरे एंटरटेनमेंट एक्सपीरिएंस को कहीं न कहीं खराब करने का काम किया। इसका सिंगल स्पीकर एक बंद कमरे में ठीक-ठाक ऑडियो अनुभव देता है, लेकिन बड़े क्षेत्र या आउटडोर में इससे ज्यादा उम्मीद नहीं की जा सकती। वर्तमान में कई मिड-रेंज स्मार्टफोन भी IP रेटिंग और स्टीरियो स्पीकर्स जैसे फीचर्स के साथ प्रतियोगिता को गर्मा रहे हैं। ऐसे में सब-40 हजार सेगमेंट में इनका मिस होने Phantom X2 5G को एक कदम पीछे करता है।
 

Tecno Phantom X2 5G: Performance and Battery

Tecno के अनुसार, Phantom X2 5G दुनिया का पहला स्मार्टफोन है, जो 4nm प्रोसेस पर बने MediaTek Dimensity 9000 (TSMC) चिपसेट से लैस है। मुझे इस प्रोसेसर की परफॉर्मेंस से कोई शिकायत नहीं हुई। प्रोसेसर दमदार है और स्मार्टफोन पर अपना काम बखूबी निभाता है। ​​बेंचमार्क की बात है, तो Phantom X2 5G ने अपने कड़े प्रतियोगी Motorola Edge 30 Fusion, OnePlus 10R Endurance Edition, Samsung S21 FE और Vivo V25 Pro से बेहतर परफॉर्म किया है। 

फोन ने AnTuTu में 9,35,831 अंक और Geekbench के सिंगल और मल्टी-स्कोर टेस्ट में क्रमश: 1232 और 3713 अंक हासिल किए। इसका AnTuTu और Geekbench सिंगल कोर स्कोर अधिक महंगे Realme GT Neo 3 (150W) से भी ज्यादा था। हालांकि, CPU थ्रॉटलिंग टेस्ट में सीपीयू परफॉर्मेंस काफी अस्थिर थी। 10 मिनट के स्ट्रेस टेस्ट में सीपीयू अपनी मैक्सिमम परफॉर्मेंस के 56% तक थ्रॉटल हुआ। हालांकि, मुझे रोजमर्रा के कामों में कोई लैग या परफॉर्मेंस ड्रॉप महसूस नहीं हुआ। मल्टी-टास्किंग हो या गेमिंग, फैंटम एक्स2 ने मुझे निराश नहीं किया।
 

cu0gh41o

Tecno Phantom X2 5G पर गेमिंग परफॉर्मेंस भी जबरदस्त थी। सभी ग्राफिक्स डिमांडिंग गेम्स जैसे Asphalt 9: Legend, Call of Duty: Mobile, Genshin Impact – Lantern Rite डिफॉल्ट रूप से सबसे हाई फ्रेम रेट और ग्राफिक्स सेटिंग्स पर चले। Tecno का कहना है कि स्मार्टफोन में वेपर चैंबर कूलिंग सिस्टम दिया गया है। थोड़े समय की गेमिंग के दौरान फोन गर्म नहीं हुआ, लेकिन लंबी गेमिंग में फोन के मॉड्यूल के पास मामूली हीट महसूस हुई, जिसने मुझे ज्यादा परेशान नहीं किया।

Phantom X2 5G की बैटरी लाइफ काफी अच्छी थी। 5160mAh बैटरी वाले इस स्मार्टफोन में एक से डेढ़ घंटे की गेमिंग, कुछ घंटों की कॉलिंग और बाकी समय सोशल मीडिया ऐप्स के इस्तेमाल के बाद भी बहुत आराम से एक दिन का बैकअप मिला। यदि आप सोशल मीडिया ऐप्स का इस्तेमाल कम करते हैं, तो फैंटम एक्स2 की बैटरी डेढ़ दिन तक चल सकती है। हमारे एचडी वीडियो लूप टेस्ट में फोन ने 17 घंटे तक साथ दिया, जो एक प्रीमियम स्मार्टफोन के लिए औसत से थोड़ा ज्यादा था।

स्मार्टफोन 45W फास्ट चार्जिंग सपोर्ट करता है और अच्छी बात यह है कि इसके साथ बॉक्स में 45W चार्जिंग एडेप्टर और Type-C केबल भी मिलती है। इस चार्जर की मदद से Phantom X2 5G 1 घंटे 10 मिनट में शून्य से 100 प्रतिशत तक चार्ज हुआ।
 

Tecno Phantom X2 5G: Cameras

Tecno Phantom X2 5G के ट्रिपल रियर कैमरा सेटअप में PDAF (फेज़ डिटेक्शन ऑटो फोकस) और ऑप्टिकल इमेज स्टेबिलाइजेशन (OIS) के साथ f/1.65 अपर्चर वाला 64-मेगापिक्सल RGBW (G+P) सेंसर मिलता है। इसमें 13-मेगापिक्सल का PDAF, f/2.2 अपर्चर वाला अल्ट्रा-वाइड-सेंसर और आखिर में एक 2-मेगापिक्सल मैक्रो कैमरा मिलता है। वहीं, सेल्फी व वीडियो कॉलिंग के लिए एडजस्टेबल फ्लैशलाइट के साथ f/2.45 अपर्चर से लैस 32-मेगापिक्सल का फ्रंट-फेसिंग कैमरा दिया गया है।
 

umc2pa3

रियर कैमरा सेटअप और सेल्फी कैमरा दोनों कई फीचर्स से लैस आते हैं, जिनमें सुपर नाइट मोड, AI सीन डिटेक्शन, पैनोरामा, वीडियो अल्ट्रा स्टेडी, डुअल वीडियो, 4K टाइम-लैप्स, 960FPS स्लो मोशन, नाइट वीडियो मोड आदि शामिल हैं।

रियर प्राइमरी कैमरा से शुरुआत करते हैं। दिन की रोशनी में इसके 64 मेगापिक्सल सेंसर ने औसत परफॉर्मेंस दी। तस्वीरों में रंग नेचुरल दिखाई देते हैं। यह बुरा नहीं है, क्योंकि आजकल ज्यादातर स्मार्टफोन पोस्ट प्रोसेसिंग तस्वीरों को इंस्टाग्राम रेडी बनाने के लिए ओवर सेचुरेट कर देते हैं, जो व्यक्तिगत रूप से मुझे पसंद नहीं है। हां, Phantom X2 से ली गई तस्वीरों को आपको सोशल मीडिया पर अपलोड करने से पहले एडिट करने की जरूरत पड़ सकती है। मुझे तस्वीरों में डिटेल्स की कमी भी महसूस हुई। इसके अलावा, डायनामिक रेंज के मामले में भी टेक्नो फैंटम एक्स2 अपने प्रतियोगी साथियों से पीछे था। प्राइमरी सेंसर की परफॉर्मेंस भी एक जैसी नहीं थी। एक बेस्ट इमेज हासिल करने के लिए मुझे एक साथ कई तस्वीरें लेनी पड़ी। यहां OIS सपोर्ट भी मौजूद है, लेकिन मुझे कहना पड़ेगा कि इसने भी अपना काम सही ढंग से नहीं किया। ऑप्टिकल इमेज स्टेबलाइजेशन होने के बाद भी सब्जेक्ट या कैमरा के जरा भी हिलने से सब्जेक्ट ब्लर हो गया। 
 

a68icvbg
gjefraj
nprvo72
fe8e9kdo
258qtvt8

Top to Bottom: Primary Camera, Primary Camera, Primary Camera, Primary Camera, Primary Camera (64 Megapixel mode))

अच्छी नेचुरल लाइट में फ्रंट कैमरा अच्छी सेल्फी लेता है। कलर नेचुरल आते हैं और डिटेल्स की प्रर्याप्त थीं। इससे ली गई तस्वीरों को सीधा इंस्टाग्राम में अपलोड किया जा सकता है। फिर भी, यदि आप फिल्टर्स या ब्यूटी एड-ऑन्स पसंद करते हैं, तो आपको Phantom X2 के कैमरा ऐप में कई ब्यूटिफिकेशन ऑप्शन मिल जाएंगे। हालांकि, यहां भी एज डिटेक्शन बहुत खराब था।
 

q0ov7vvo

ज्यादातर स्मार्टफोन के विपरीत Phantom X2 के वाइड-एंगल लेंस ने मुझे अचंभित किया। प्राइमरी कैमरा के विपरीत वाइड-एंगल से ली गई तस्वीरें ज्यादा नेचुअल निकलकर आईं। इनमें प्रर्याप्त डिटेल्स थीं और रंग भी सटीक थे। हालांकि इसमें भी मुझे परफॉर्मेंस कंसिस्टेंसी की कमी लगी। इसके अलावा, एक और अच्छी बात यह है कि वाइड-एंगल से ली गई तस्वीरों में बैरल डिस्टॉर्शन नहीं था।
 

kh0omuf8
4k0c6ps8

Top to Bottom: Primary Camera, Ultra-Wide Camera

 

रियर कैमरे से बाहर ली गई पोर्ट्रेट तस्वीरें शार्प थीं, लेकिन यहां भी एज डिटेक्शन बहुत खराब था। इसमें बोके इफेक्ट को कम या ज्यादा करने के लिए मैनुअल अपर्चर एडजस्टमेंट मिलता है, लेकिन f/1.0 अपर्चर पर ली गई फोटो में बैकग्राउंड ब्लर बहुत नकली लगा। AI डिफॉल्ट रूप से ब्यूटी मोड ऑन रखता है, जिसे व्यू फाइंडर पर मौजूद ऑप्शन से बंद किया जा सकता है। मैक्रो कैमरे के परिणाम ज़्यादा शार्प थे और किसी ऑब्जेक्ट को फोकस में लाना काफी मुश्किल था। मैक्रो शॉट्स के मामले में AI खुद सीन डिटेक्ट करता है और कैमरा बेहद पास से भी सब्जेक्ट पर फोकस करने में सक्षम रहता है। हालांकि, फोकस सेट करने में मुझे हर बार कई प्रयास करने पड़े। लेकिन एक बार फोकस सेट हो गया, तो तस्वीरें बहुत शार्प आईं और इसमें रंग और डिटेल्स की कोई कमी नहीं थी।

कम रोशनी वाले सीन में, AI मोड में ली गई तस्वीरें अच्छी आईं। यहां भरपूर डिटेल्स थीं, लेकिन लो-लाइट में AI तस्वीरों को ओवर सेचुरेट करता है। रंग काफी चटक लगते हैं, जो फूड आइट्स तक अच्छे लगते हैं, लेकिन इंसानी सब्जेक्ट के फ्रेम में आते ही स्किन टोन और कपड़ों के रंग बहुत नकली हो लगने लगते हैं। इसमें नाइट मोड भी मिलता है, जो तस्वीरें खींचने में ज्यादा समय नहीं लेता है। नाइट मोड नॉइस को कम करता है और थोड़ी बेहतर डायनामिक रेंज के साथ साफ तस्वीरें निकालता है। कुल मिलाकर, कम रोशनी में ली गई तस्वीरें एक जैसी नहीं थीं और यह उपलब्ध रोशनी के आधार पर सीन के आधार पर परफॉर्मेंस काफी बदल रही थी। हालांकि, यहां भी अल्ट्रा-वाइड-एंगल कैमरे ने मुझे प्रभावित किया। लो-लाइट में अल्ट्रा वाइड सेंसर अच्छा काम करता है। इसमें रंग भी सटीक आते हैं और तस्वीरें ओवर एक्सपोज्ड नहीं लगती हैं।
 

7r2bgopo

Tecno Phantom X2 5G की वीडियो परफॉर्मेंस भी औसत थी। यहां भी OIS ने अपना काम नहीं किया और वीडियो में स्टेबलाइजेशन की कमी दिखाई दी। एक अल्ट्रा स्टेडी मोड मिलता है, जो क्रॉपिंग के जरिए वीडियो को स्टेबल बनाता है, लेकिन यहां भी मुझे जिटर दिखाई दिया। प्राइमरी रियर कैमरा से 4K 60fps पर वीडियो शूट किया जा सकता है, लेकिन अल्ट्रा स्टेडी मोड में रिकॉर्डिंग 1080p 30fps तक सीमित रहती है। हालांकि, डायनामिक रेंज के मामले में कैमरा प्रभावित करता है। अंधेरे से अचानक उजाले में स्विच करने पर यह तुरंत फोकस करता है और सीन ओवर एक्सपोज नहीं होता है। वीडियो में रंग काफी नेचुरल आते हैं और डेलाइट में नॉइस नहीं आती। हालांकि, रोशनी के कम होते ही सब बदल जाता है। वीडियो में काफी नॉइस दिखाई देती है और जिटरिंग दोगुना हो जाती है। हालांकि, व्यू फाइंडर में एक ‘Ultimate Video Enhancement’ मोड मिलता है, जो सीन को बेहतर बनाता है। इस मोड में सीन ब्राइट हो जाता है और नॉइस की समस्या भी खत्म हो जाती है। यह मोड 1080p 30fps पर ही काम करता है।
 

Tecno Phantom X2 5G: Verdict

Tecno Phantom X2 5G के बारे में अपनी अंतिम राय रखने से पहले मैं इसकी कीमत के बारे में बात करना चाहूंगा। इसमें कोई बुराई नहीं है कि अच्छे हार्डवेयर चॉइस के साथ टेक्नो प्रीमियम सेगमेंट में मौजूद खिलाड़ियों को टक्कर देना चाहता है, लेकिन स्मार्टफोन की औसत कैमरा परफॉर्मेंस के साथ-साथ IP रेटिंग और स्टीरियो स्पीकर्स की कमी क्या इसकी 39,999 रुपये कीमत को जस्टिफाई करती है? 

यदि आप इस प्राइस रेंज में मौजूद अन्य स्मार्टफोन देखेंगे, तो आपको इन कमियों को पूरा करने वाले कई ऑप्शन मिलेंगे, जिनमें से एक Motorola Edge 30 Pro है, जो कम कीमत, बेहतर 144Hz AMOLED डिस्प्ले, 8K तक रिकॉर्डिंग के साथ बेहतर कैमरा परफॉर्मेंस, IP52 रेटिंग, स्टीरियो स्पीकर, क्लीन सॉफ्टवेयर एक्सपीरिएंस और 15W वायरलेस चार्जिग के साथ 68W वायरलेस फास्ट चार्जिंग से लैस आता है। Motorola स्मार्टफोन का AnTuTu स्कोर भी Tecno Phantom X2 से ज्यादा है।

यदि टेक्नो इस स्मार्टफोन को सही प्राइस रेंज में फिट करता, तो इसके स्लीक डिजाइन, अच्छी बैटरी लाइफ और बेहतरीन गेमिंग परफॉर्मेंस के आधार पर मैं आपको इस स्मार्टफोन को खरीदने की सलाह दे सकता था, लेकिन अगर आप 40 हजार रुपये खर्च करने का मन बना रहे हैं, तो आपको मार्केट में मौजूद अन्य स्मार्टफोन जैसे Motorola Edge 30 Pro और OnePlus 10R Endurance Edition पर नजर डालनी चाहिए।

Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular